Best 100+ जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

आज के समय में जिगरी दोस्त किस्मत वालो को ही मिलते है। जिगरी दोस्त हमारे सबसे सच्चे वे अच्छे दोस्त होते है। जो हर बुरे वक्त में हमारा साथ देते है। जब भी हम मुसीबत में होते है तो यह जिगरी दोस्त ही हमारी मदद करते है और हमे उस मुसीबत से निकालते है। मनुष्य जीवन में जिगरी दोस्त होना बहुत आवश्य है। सभी के कोई न कोई तो जिगरी दोस्त होता है। बहुत सो के एक से अधिक जिगरी दोस्त होते है। यह जिगरी दोस्त हमे हमारे जीवन में खुशियां देने का काम भी करते है। यह जिगरी दोस्त हमारे भाई के की तरह होते है। इन से हमारा खून का रिश्ता तो नही होता है पर किसी खून के रिश्ते से कम भी नहीं होता है। अगर आप के भी कोई जिगरी दोस्त है तो आप को इस लेख में जिगरी दोस्त शायरी पढ़ने के लिए हम ने आप के साथ साझा की है। मुझे लगता है की आप भी इस लेख तक जिगरी दोस्त शायरी सर्च करते हुए ही पहुंचे हो। इस लेख में आप को जिगरी दोस्तो के अलावा सच्ची दोस्ती शायरी भी हम ने लिखी है। जिसे आप अपने व्हाट्सएप स्टेटस में लगा सकते हो। आप इसे अपने व्हाट्सएप स्टेटस में लगाते हो तो यह आप के जिगरी व सच्चे दोस्त को बहुत ज्यादा पसंद आएगी। अगर आप को अपने जिगरी दोस्त को खुश करना है तो इस लेख की शायरी को अपने व्हाट्सएप स्टेटस में जरूर लगानी चाहिए।

Jigri Dost Shayari

जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

ऐ दोस्त अब क्या लिखूं तेरी
तारीफ में बड़ा खास है तू
मेरी जिंदगी में.!

 

भूल शायद बहुत बड़ी कर ली,
दिल ने दुनिया से दोस्ती कर ली……!!!

🤗🥰😇

 

जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

मुझे लिख कर कही
महफूज़ कर लो दोस्तो,
आपकी यादाश्त से निकलता जा रहा हूँ में…..!!!

 

जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

दोस्तों से बातें करना फितरत है हमारी
दोस्त मेरे खुश रहे हसरत है हमारी
हमे कोई याद करे ना करे
दोस्तों को याद करना आदत है हमारी।

जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

नसीब का प्यार और गरीब
की दोस्ती कभी धोखा नहीं
देती.!

 

जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

दोस्ती की हवा लगने दो मुझे,
किसी का अच्छा दोस्त बनने दो मुझे,
प्यार में तो मुझे भी
दर्द ही मिला,
अब दोस्ती का फ़र्ज़
अदा करने दो मुझे।

 

जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

दोस्ती में दोस्त दोस्त का
खुदा होता है,
महसूस तब होता है जब वो
जुदा होता है.!

जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

 

अगर विश्वास है तो दोस्ती है,
दोस्ती है तो प्यार है,
प्यार है तो ज़िन्दगी भी अच्छी है,
ये सब मिलता है
अगर दोस्ती सच्ची है।

यह भी पढ़े:

जबरदस्त मोहब्बत शायरी

बेहतरीन रिश्ते शायरी

खूबसूरती की तारीफ शायरी

Propose Shayari in Hindi

अनमोल दोस्त शायरी

 

बरबाद कर देंगे उस हस्ती को
जब बात दोस्ती की होगी..!

 

जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

कोशिश करो कि
कोई कभी आपसे ना रूठे
जिन्दगी में अपनों का
साथ कभी ना छूटे
दोस्ती करो तो उसे निभाओ ऐसे
के उस दोस्ती की डोर ज़िन्दगी भर ना टूटे।

 

जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

मांगी थी दुआ हमने रब से
के देना हमे दोस्त ऐसे
जो अलग हो सबसे
रब ने मिला दिया हमे
आपसे और कहा
मत होना जुदा अब इनसे
ये अनमोल है सबसे।

 

जिगरी दोस्त शायरी | Jigri Dost Shayari

एक ऐसा दोस्त है मेरे पास जब
दुनियाँ ने साथ छोड़ दिया था
वो मेरे साथ था.!

 

 

आपकी दोस्ती हमारे सुरों का साज है
आप जैसे दोस्तों से ही
हमे दोस्ती पे नाज़ है।
खुदा करे हमारी दोस्ती सदा ऐसी रहे जैसी आज है।

लोग गुनाह करके सजा से डरते है
ज़हर पी के दवा से डरते है
दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमे
हम दोस्तों की बेवफाई से डरते है।

आज रब से मुलाकात हुई है
थोड़ी दोस्तों के बारे में
बात हुई है
मैंने कहा कैसे दोस्त दिए है
रब ने कहा संभल के रखना
मेरी परछाई है।

 

सच्ची दोस्ती शायरी

 

दोस्त एक भी होगा तो चलेगा
fake नहीं होना चाहिए..!!

लोग कहते है की
इतनी दोस्ती ना करो
के दोस्ती दिल पर सवार हो जाये
हम कहते है की दोस्ती ऐसी करो
की दुश्मनो को भी तुमसे प्यार हो जाये।

दोस्त हालत बदलने वाले रखो
हालात के साथ बदलने वाले नही

कौन कहता है दोस्ती
बराबरी वालो में होती है
सच तो ये है की
दोस्ती में सब बराबर होते हैं।

यारी की बिना ये जिंदगी
प्यारी नही लगती….

कितने कमाल की होती है ना दोस्ती
वजन तो होता है
लेकिन बोझ नहीं होता।

दोस्ती का फर्ज इस तरह निभाया जाए,
अगर राम रहे भूखा तो
रहीम से भी खाया न जाए ।

धागे अपने रिश्तों के टूटने नही देंगे,
साथ इस दोस्ती का छूटने नही देंगे,
हमे नही आता मनाना किसी को,
पर दिल से कहते हैं
आपको कभी रूठने नही देंगे ।

नादान से दोस्ती कीजिए क्योंकि मुसीबत के वक्त कोई भी समझदार साथ नही देता…..

दोस्तों के नाम का खत
जेब में रख कर क्या चला…
करीब से गुजरने वाले पूछते है इत्र का नाम क्या है ….

एक जैसे दोस्त सारे नही होते
कुछ हमारे होकर भी हमारे नही होते
आपसे दोस्ती करने के बाद महशूस हुआ
कौन कहता है
तारे जमीन पर नही होते….

दोस्ती एक नाम है
सुख-दुःख की कहानी का
दोस्ती एक राज है सदा मुस्कुराने का
दोस्ती कोई पल भर की
जान पहचान नहीं है
दोस्ती एक वादा है
हर दम साथ निभाने का।

जब साले गुजर जाये तो
कौनसा समा होगा,
हम सभी दोस्तों में न जाने
कौन कहां होगा,
और जब मिलना होगा तो
बस ख्वाबो में,
जैसे सूखे गुलाब मिलते है
किताबों में।

ज़िन्दगी कभी धुप तो कभी छाव है,
हमारे होठो पर बस आपका ही नाम है,
मेरे दोस्त हमसे कुछ
मांग कर तो देखो,
मेरे हाथो पर मेरी जान है।

एक वफादार दोस्त हजार
रिश्तों से बेहतर है..!

रोएगी ये आँखें
मुस्कुराने के बाद,
आयेगी ये रात
दिन ढल जाने के बाद,
कभी, मुझसे दोस्त,
तुम रूठना नहीं,
ये जिंदगी ना रहेगी,
तेरे रूठ जाने के बाद।

हम तो बस इतना उसूल रखते है,
जब हम तुझे कुबूल करते है तो
तेरा सब कुछ कुबूल करते है!

दोस्ती का फ़र्ज़ यूँ ही निभाते रहेंगे,
वक्त बेवक्त आपको सताते रहेंगे,
दुआ करो के उम्र लम्बी हो हमारी,
वरना याद बन के आपको सताते रहेंगे!

आपकी हमारी दोस्ती सुरों का साज है,
आप जैसे दोस्त पर हमें नाज़ है,
अब चाहे कुछ भी हो जाये जिंदगी में,
दोस्ती वैसे ही रहेगी जैसे आज है!

ना किसी लड़की की चाहत
ना ही पढ़ाई का जज्बा था,
बस चार कमीने दोस्त थे
और लास्ट बेंच पे कब्जा था!

दोस्ती शायरी दो लाइन शायरी

 

 

दावे मुझे दोस्ती के नहीं आते यार,
एक जान है जब दिल चाहे मांग लेना!

एक मजबूत दोस्ती को
Daily बातचीत की
आवश्यकता नहीं होती है..!!

हर पल साथ निभाने का
वादा करते हैं,
हर रास्ते पर साथ चलने का
वादा करते हैं,
तू हमे बेशक भुला देना लेकिन,
हम हमेशा तुझे याद करने का
वादा करते हैं।

हम पर विश्वाश करने की कोशिश करना,
हम वेबजह किसी का भी
दिल दुखाया नही करते,
कुछ ऐसा था आप में जो
हमे बहुत अच्छा लगा,
वरना हम भी यूँ ही किसी को
दोस्त बनाया नही करते।

कुछ गुजरे हुए
कल बहुत याद आते हैं,
कुछ यादो से आँखों में
आँसू भर आते है,
वो सुबह शाम रंगीन हो
जाती है,
जब यारो की यारी के
लम्हे याद आते हैं।

तू सामने नही
पर तेरी तस्बीर बना सकता हूँ,
तेरा क्या हाल है
ये तुझसे मिले बिना बता सकता हूँ,
हम तो अपनी दोस्ती पे
इतना भरोसा रखते है,
तेरी आँख का आँसू अपनी
आखँ से गिरा सकता हूँ।

जो भी हूँ
आपकी दोस्ती की बदौलत हूँ
वरना दोस्तो बिन मैं क्या दौलत हूँ.!

हम उनके ख्याल को कभी मिटा नही सकते,
हम कभी उनकी दोस्ती को भुला नही सकते,
आज भी याद आती है
वो प्यारी प्यारी मस्ती,
इसलिये हम अपने दोस्तों को आज़मा नही सकते।

मेरी ज़िन्दगी में
कुछ घड़ी का इंतज़ार था,
तेरे वेबफा इश्क से
प्यारा मेरा यार था,
तेरे इश्क ने मुझे
इस कदर तोड़ा था,
फिर मेरे यार ने ही
मुझे जोड़ा था।

कौन कहता है की
दोस्ती यारी बर्बाद करती है,
कोई निभाने वाला हो तो
दुनिया याद करती है!

दम नहीं किसी में की मिटा सके
हमारी दोस्ती को,
जंग तलवारों को लगता है
जिगरी यार को नहीं!

 

गहरी दोस्ती शायरी

 

तेरी मुस्कुराहट मेरी पहचान है
तेरी खुशी मेरी ही जान है,
कुछ भी नहीं मेरी ज़िन्दगी में
बस इतना समझ ले की,
तेरा दोस्त होना मेरी शान है!

एक ताबीज़
हमारी गहरी दोस्ती को चाहिए,
जरा सी दिखी नहीं कि
नज़र लगने लगती हैं!

न जाने कौन सी दौलत है कुछ
दोस्तों के लफ्जों में बात करते हैं
तो दिल ही खरीद लेते हैं.!

जिसकी मौजूदगी से मेरा
दिल मुस्कुराता है,
वो मेरे प्यारा दोस्त है
अपनी दोस्ती हरदम रहे सलामत!

ऐ ‪‎दोस्त‬ अब क्या लिखूं
तेरी ‪‎तारीफ‬ में, बड़ा ‪‎खास‬ है तू मेरी ‪‎जिंदगी‬ में…

मेरे हर कदम के साथ
रब मेहरबान होता गया,
दोस्त साथ चलते रहे
और सफर आसान होता गया!

किसी भी झूठे दोस्त से
कभी प्रेम मत करना,
और एक सच्चे दोस्त को
कभी गेम मत करना!

रिश्ते हैशियत पूछते है
लोग पैसे देखते है,
वो दोस्त ही है जो
मेरी तबियत पूछते है!

अगर तू बेचे अपनी दोस्ती,
तो पहले खरीदार हम होंगे।

Last Word:-
मुझे आशा है की आप को इस लेख में दी गई जिगरी दोस्ती शायरी बहुत ज्यादा पसंद आई होगी। अगर आप को इस लेख की शायरी पसंद आई है तो इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर करे जिससे आप के दोस्त भी इस लेख का लाभ उठा सके। आपके दोस्त भी इस लेख को पढ़ सके व अपने व्हाट्सएप स्टेटस में लगा सके।

Leave a comment